कार्ल रिटर का भूगोल में योगदान

कार्ल रिटर का भूगोल में योगदान ✍️ कार्ल रिटर का जीवन परिचय        कार्ल रिटर ने भूगोल को आधुनिक स्वरूप प्रदान किया। कार्ल रिटर का जन्म 1779 में प्रशिया शिक्षा केन्द्र श्नेपफेन्थल के निकट मेग्डेलबर्ग में हुआ। अलेक्जेन्डर-वान-हम्बोल्ट के समकालीन विद्वानों में से एक तथा विविध रुचि रखने वाला विद्वान कार्ल रिटर को भी आधुनिक भूगोल … Read more

टॉलेमी का भूगोल में योगदान

टॉलेमी का भूगोल में योगदान          क्लॉडियस टॉलेमी के जन्मस्थान के सम्बन्ध में विद्वानों के विचार में पर्याप्त मतभेद पाये जाते हैं। सामान्यतया विभिन्न इतिहासकारों के मतानुसार टॉलेमी का जन्म 90 ई. में टॉलेमस हरसी नामक स्थान पर हुआ माना जाता है। अन्य इतिहासकारों के अनुसार टॉलमी का जन्म स्थान पेल्यूसियस नगर को माना जाता … Read more

प्रेम रंग में दीवानी मीरा ~ करुणा व प्रेम का प्रतीक लोकदेवता बाबा रामदेव ~ रामसा पीर, रुणेचा रा धणी, पीरां रा पीर श्रीकृष्ण को सर्वोत्तम मित्र क्यों माना जाता है ? परमाणु क्या होता है ? आप जानते हो ! झाँसी की रानी के रहस्मयी तथ्य सुनीता विलियम्स ~ भारतीय मूल की अन्तरिक्ष यात्री पारिवारिक सम्बंध में हमारे रिश्तों की पहचान क्या होती है ? क्या आप पदार्थ (Matter) के बारे में जानते है ?🤔 सरदार भगतसिंह क्यों बने क्रन्तिकारी ? भूमण्डलीय स्थितीय तंत्र (GPS – Global Positioning System ) International Pushkar Fair