हमारा राजस्थान में आधारभूत सेवाएँ

      किसी राज्य के विकास के लिए कुछ आधारभूत सेवाओं की आवश्यकता होती है, जैसे- शिक्षा , चिकित्सा , परिवहन एवं स्वास्थ्य आदि। आमजन को आधारभूत सेवाएँ उपलब्ध करवाना , सरकार का प्रमुख दायित्व होता है।

        राजस्थान में राज्य सरकार द्वारा इस क्षेत्र में किए गए कार्यों का संक्षेप में वर्णन इस प्रकार है।

📝 शिक्षा

    राजस्थान में आधारभूत सेवाओं में शिक्षा मनुष्य की जन्मजात क्षमताओं के विकास के साथ उसमें चारित्रिक एवं व्यक्तित्व विकास का मार्ग प्रशस्त करती है । अतः शिक्षा व्यक्ति के जीवन में आगे बढ़ने , सफलता पाप्त करने , समाज एवं देश का विकास करने का मुख्य माध्यम है । विद्यालयी शिक्षा इन सभी में सर्वोपरि है । राज्य सरकार द्वारा सभी बच्चों को शिक्षा प्राप्ति के अवसर सुलभ करवाने के लिए लगातार प्रयास किए जाते हैं । राज्य में विद्यालय शिक्षा के लिए उच्च माध्यमिक , माध्यमिक , उच्च प्राथमिक और प्राथमिक विद्यालय संचालित है । संस्कृत शिक्षा राज्य की शिक्षा व्यवस्था का एक महत्त्वपूर्ण आयाम है । राज्य में उच्च शिक्षा के लिए विश्वविद्यालय और महाविद्यालय विद्यमान है । इसी तरह तकनीकी और मेडिकल शिक्षा के संस्थान भी विद्यमान हैं ।आधारभूत

📋 शिक्षा का अधिकार

      राजस्थान में भी शिक्षा का अधिकार अधिनियम 6 से 14 वर्ष के बच्चों को निःशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा प्रदान करता है । इस अधिकार से तय आयु के सभी बच्चों को शिक्षा मिलने के समान अवसर मिलते हैं । यह अधिनियम , जहाँ बच्चों को शिक्षा प्राप्त करने की सुविधा देता है , वहीं अभिभावकों से भी बच्चों को विद्यालय में प्रवेश कराने का कर्तव्य भी बताता है ।

       विद्यालयों में बेहतर भौतिक सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिए राज्य सरकार निरंतर प्रयासरत है । शाला दर्पण पोर्टल के माध्यम से राजस्थान में विद्यालयों की स्थिति को देखा और समझा जा सकता है । बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले , इसके लिए राजस्थान में निःशुल्क शिक्षा , निःशुल्क पाठ्यपुस्तक , विविध प्रोत्साहन , पुरस्कार , छात्रवृत्ति , छात्रावास और भोजन एवं दुग्ध वितरण की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाती है । बेहतर परीक्षा परिणाम देने वाले विद्यार्थियों को राज्य सरकार द्वारा प्रोत्साहन दिया जाता है, बालिकाओं के लिए इंदिरा प्रियदर्शिनी, गार्गी पुरस्कार एवं प्रोत्साहन देना भी राजस्थान में आधारभूत सेवाओं में एक महत्त्वपूर्ण कदम है ।

📉 साक्षरता 

      साक्षरता की बात की जाए तो वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर राजस्थान की कुल साक्षरता प्रतिशत 66.11 रही, जिसमें पुरूष साक्षरता 79.19 प्रतिशत और महिला साक्षरता 52.12 प्रतिशत रही ।

🚑 स्वास्थ्य सेवाएँ

    राजस्थान में आधारभूत सेवा स्वास्थ्य , प्रत्येक व्यक्ति की मूलभूत आवश्यकता है। स्वास्थ्य का अर्थ केवल शारीरिक स्वास्थ्य नहीं बल्कि मानसिक, सामाजिक और बौद्धिक सभी प्रकार के स्वास्थ्य से होता है। इसीलिए सरकार जनहित को ध्यान में रखते हुए नागरिकों को पर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाएँ प्रदान करती है।

राजस्थान में आधारभूत सेवाएँ

      सरकार द्वारा सबके लिए स्वास्थ्य की सकल्पना को साकार करने और नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में प्रयास किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य सुविधाएँ राजस्थान की जनता के स्वास्थ्य कल्याण के लिए, एक हजार की आबादी पर स्वास्थ्य उपकेन्द्र, तीस हजार की आबादी पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व एक लाख की आबादी पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खोले गए हैं।

      नागरिकों को आपातकालीन स्थिति में स्वास्थ्य और उसकी सुरक्षा के लिए 108 निःशुल्क आपातकालीन सेवाएँ उपलब्ध करवाई जाती है। राजस्थान में जयपुर , जोधपुर , अजमेर , बीकानेर , कोटा और उदयपुर में स्थित आयुर्विज्ञान महाविद्यालयों में विशेष चिकित्सा की सुविधाएँ उपलब्ध है। जल्द ही राजस्थान में कुल 33 जिलों में से 30 जिलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज हो जाएंगे ।

🏥 स्वास्थ्य योजनाएँ

    राजस्थान में नागरिकों की स्वास्थ्य की कुशलता के लिए सरकार कई प्रकार की योजनाएँ संचालित करती हैं , जिसमें आयुष्मान भारत- महात्मा गाँधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना , मुख्यमंत्री सहायता और जीवन रक्षा कोष , मुख्यमंत्री राजश्री योजना , मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना , राजस्थान जननी शिशु सुरक्षा योजना आदि कुछ प्रमुख उदाहरण हैं । इसी प्रकार राज्य में क्षय रोग , मलेरिया , अन्धता , आयोडीन अल्पता विकार , एड्स आदि रोगों पर नियंत्रण एवं कुष्ठ रोगों के उन्मूलन हेतु कई राष्ट्रीय कार्यक्रम भी चिकित्सा , स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा संचालित किए जाते हैं ।

      राजस्थान में आधारभूत सेवाओं में स्वास्थ्य विभाग के अन्तर्गत , औषधि नियंत्रण संगठन कार्य करता है , जो दवाइयों का विक्रय लाइसेंस एवं निर्माण लाईसेंस प्रदान करता है । इसके साथ ही यह प्रतिबंधित दवाइयों की सूची भी जारी करता है ।

🚚 संचार एवं डाक सेवा

   वर्तमान युग सूचना एवं तकनीकी का युग है। अतः इस दिशा में राजस्थान में भी महत्त्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं । आप संचार को सूचना या समाचार भेजने की प्रक्रिया से समझ सकते है । इसके माध्यम से दो या दो से अधिक व्यक्ति अपने संदेशों अथवा विचारों को आदान – प्रदान करते हैं। टेलिफोन , टेलीविजन , रेडियो , टेलिग्राफ  राजस्थान में आधारभूत सेवा के प्रचलित साधन है।

राजस्थान में आधारभूत सेवाएँ

       बढ़ते हुए सूचना और तकनीकी ज्ञान ने संचार के क्षेत्र में क्रांति ला दी है । राजस्थान में सूचना तकनीकी एवं संचार विभाग कार्यरत है, जो नवीन बदलावों के अनुरूप राज्य के तकनीकी विकास के लिए प्रयास करता है। यह राज्य में सूचना एवं संचार से सम्बन्धित नीति के निर्माण और क्रियान्वयन का कार्य करता है एवं सूचना व तकनीकी से संबंधित सुविधाओं, शर्तों और सीमाओं को तय करता है।

     संचार एवं डाक सेवा के माध्यम से नागरिकों को संदेश और सामग्री को आदान – प्रदान की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है । संदेशों , सूचनाओं और विविध सामग्री को भौतिक तथा वस्तुगत रूप में आदान – प्रदान करने अथवा एक से दूसरे तक पहुँचाने में डाक व्यवस्था का महत्त्वपूर्ण योगदान है । डाक एवं संचार विभाग , भारत सरकार का एक महत्त्वपूर्ण विभाग कार्यरत है । राजस्थान में भी डाक और इससे सम्बन्धित सुविधाएँ पर्याप्त रूप में उपलब्ध हैं । डाक विभाग के माध्यम से सूचना प्रेषित करने के लिए पोस्ट कार्ड, अन्तर्देशीय पत्र और लिफाफे तीन पारम्परिक साधन हैं।

        सामान्य डाक सेवा , रजिस्टर्ड पत्र और स्पीड पोस्ट के माध्यम से डाक को पहुँचाया जाता है। डाक विभाग के माध्यम से न केवल डाक भेजी जाती है, बल्कि बचत खाते और मनी आर्डर की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाती है। इसका एक उदाहरण “ सुकन्या समृद्धि योजना ” है, जिसके अन्तर्गत बेटी कि पढ़ाई व शादी के लिए डाक विभाग के पास “ सुकन्या समृद्धि योजना ‘ का खाता खुलवाया जा सकता है । खाते से निश्चित समय के बाद, राशि निकालने की सुविधा प्रदान की गई है ।

🏦 बैंक सेवाएँ

       बैंक एक ऐसी संस्था होती है, जो मुद्रा का व्यवसाय करती है । बैंक , मुद्रा के लेनदेन द्वारा ब्याज अर्जित करती है । व्यक्ति एवं संस्थाओं द्वारा अपनी बचत बैंकों में जमा करवाई जाती है । बैंक द्वारा जमा राशि पर ब्याज दिया जाता है । बैंक जरूरतमंद लोगों को ऋण भी देती है एवं ऋण की राशि पर ब्याज वसूल करती है ।

राजस्थान में आधारभूत सेवाएँ

      बैंक में जमा राशि , एटीएम , चैक व ड्राफ्ट द्वारा निकाली जा सकती है। बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को लॉकर सुविधा भी प्रदान की जाती है । सभी बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नियमों के अधीन कार्य करते हैं।

🚃 परिवहन सेवा

      राज्य के औद्योगिक विकास एवं व्यापार वृद्धि हेतु सुदृढ़ परिवहन व्यवस्था आवश्यक है।  राजस्थान में सड़क , रेल एवं वायु तीनों प्रकार के परिवहन के साधन उपलब्ध हैं। राज्य में कोई बन्दरगाह नहीं है।

राजस्थान में आधारभूत सेवाएँ

🚌 सड़क परिवहन

     राजस्थान के परिवहन के साधनों में सड़क परिवहन का महत्त्वपूर्ण स्थान है । राजस्थान राज्य परिवहन निगम 1 अक्टूबर 1964 में स्थापित हुआ था। राजस्थान में सड़कों की सर्वाधिक लम्बाई जोधपुर एवं न्यूनतम धौलपुर में है। एन.एच. 15 राज्य का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग है। सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग 71 – बी है।

🚂 रेल परिवहन

     रेल परिवहन, माल परिवहन एवं यात्री परिवहन दोनों की दृष्टि से महत्त्वपूर्ण साधन हैं । राजस्थान में रेलवे के दो जोन ( उत्तर पश्चिम रेलवे एवं पश्चिम मध्य रेलवे ) एवं पाँच मण्डल- जयपुर जोधपुर , अजमेर , बीकानेर एवं कोटा है ।

      भारत का सबसे बड़ा रेलवे मॉडल कक्ष उदयपुर के पश्चिमी रेलवे क्षेत्रीय प्रशिक्षण केन्द्र में स्थित है।

✈️ वायु परिवहन

राजस्थान में वायु परिवहन का विकास जारी है। राज्य में जयपुर , जोधपुर , उदयपुर , कोटा , अजमेर वायु सेवा से जुड़े हैं। जयपुर का सांगानेर हवाई अड्डा राज्य का एकमात्र अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है। राज्य में बीकानेर, जैसलमेर, सूरतगढ, बाड़मेर, फलौदी, रातानाड़ा हवाई अड्डे भारतीय वायु सेना के अधीन है।

        राजस्थान में पहली रेलगाड़ी जयपुर रियासत में आगरा फोर्ट से बांदीकुई के बीच अप्रैल 1874 ई. में चली।

शब्दावली

  1. बौद्धिक         :-   बुद्धि से संबंधित
  2. व्यापक          :-  बड़ा
  3. पारस्परिक      :-  आपसी
  4. जीविकोपार्जन :- जीने के लिए कार्य करना 

अभ्यास प्रश्न

Q.1 सन 2011 की जनगणना के आधार पर राजस्थान की कुल साक्षरता प्रतिशत है ?

     ( अ ) 79.19 ( ब ) 52.12 ( स ) 66.11 ( द ) इनमें से कोई नहीं

Q.2   108 निःशुल्क आपातकालीन आधारभूत सेवाएँ सम्बन्धित है?

      ( अ ) शिक्षा सेवा ( ब ) स्वास्थ्य सेवा ( स ) संचार सेवा ( द ) बैंक सेवा

Q.3  रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

       (१)  राज्य का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग ……… एवं सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग ………है ।

        (२)  बैंक एक ऐसी संस्था है जो का………… व्यवसाय करती है। 

Q.4  राजस्थान में आयुर्विज्ञान महाविद्यालय किन जिलों में है  ?

Q.5  स्वास्थ्य से आप क्या समझते हैं ?

Q.6  बैंक से आप क्या समझते है ?

Q.7  संचार से आप क्या समझते हैं ? संचार के कौन – कौन से प्रमुख साधन होते हैं ?


★ हमारे टेलिग्राम ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां click करें।

★ हमारे Whatsapp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां click करें।

★ GK Quiz के लिए यहां Click करें।

★ हमारा राजस्थान के महत्वपूर्ण अन्य लेख :-

  1. हमारा राजस्थान – एक परिचय

  2. हमारा राजस्थान के प्राचीन ऐतिहासिक क्षेत्र 

  3. हमारा राजस्थान का इतिहास जानने के सोत 

  4. हमारा राजस्थान ~ प्राचीन सभ्यता स्थल 

  5. हमारा राजस्थान ~ आजादी से पूर्व सरकार का स्वरूप

  6. हमारा राजस्थान का भौतिक स्वरूप

  7. हमारा राजस्थान के जल संसाधन और संरक्षण

  8. हमारा राजस्थान आजीविका के प्रमुख क्षेत्र

image_pdfDownloadimage_printPrint
Share this Content ~

Leave a Comment